हैदराबाद में आखिरी ओवर में मिली जीत के बाद टीम इंडिया ने रायपुर में न्यूजीलैंड को कोई मौका नहीं दिया। 108 रन पर कीवी टीम को समेटने के बाद 8 विकेट से आसानी से दूसरा वनडे जीता और इसके साथ ही सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली। भारत की इस जीत के हीरो खुद भारतीय गेंदबाज रहे। खासतौर पर जिस तरह से नई गेंद से मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) ने इस मैच में गेंदबाजी की, वो देखने लायक रही।

न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के दूसरे मैच में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी भारतीय टीम की जीत के सबसे बड़े हीरो रहे। शमी ने इस मैच में 6 ओवर गेंदबाजी करते हुए 3.00 की इकॉनमी से 18 रन खर्च किए और 3 खिलाड़ियों को आउट किया। उन्हें इस शानदार खेल के लिए मैन ऑफ द मैच (MOM) अवार्ड भी दिया गया। उन्होंने मैच के बाद अपने खेल पर बड़ा बयान दिया और बताया कि मैच के दौरान उन्हें किस चीज से चिड़ होगी है।

मोहम्मद शमी ने क्या कहा

मैच जीतने के बाद पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान मोहम्मद शमी ने कहा, “जब भी मैं शुरुआत करता हूं, मैं सिर्फ सही लाइन और लेंथ बनाए रखने पर ध्यान देता हूं। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि आप अच्छी गेंदबाजी करते हैं और फिर भी विकेट नहीं मिलते। अन्य दिनों में हो सकता है कि आप लय में न हों और तब भी आपको विकेट मिलेंगे। ऐसा होता है। मुझे लगता है कि प्रैक्टिस में आप बॉल के साथ जितना ज्यादा काम करेंगे, उतनी ही ज्यादा सफलता मिलेगी। मैं हमेशा कोशिश करता हूं कि बॉल हमेशा सीम पर ही रहे, चाहे विकेट जैसा भी हो।”

उन्होंने आगे कहा, “मैंने कभी नहीं सोचा था कि यहां मुझे एक उचित सीम पोजीशन मिलेगी और यह मुझे सीम को सीधा देखने में खुशी देता है क्योंकि यह हवा में जाती है। एक नई गेंद के गेंदबाज के रूप में, परिस्थितियों का आकलन करना और अन्य गेंदबाजों को भी जल्दी संदेश देना महत्वपूर्ण है। मैं मानता हूं कि जितना ज्यादा नंबर्स में आप रिपीट करेंगे…वो कहते हैं ना कि जिस चीज से आप जितना ज्यादा प्यार करो वो आपकी ही हो जाती है… तो मेरे हिसाब से मैंने कभी ऐसा कभी नहीं सोचा था कि इस पिच पर इतना सीम पोजिशन मिलेगा।”

Leave a comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *